पाकिस्तान को बीएसएफ ने दिया मुंहतोड़ जवाब, पाकिस्तानी रेंजर्स ने की गोलीबारी रोकने की अपील,देखें विडियो

पाकिस्तानी रेंजर्स ने जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास एक बार फिर बिना उकसावे के गोलीबारी शुरू कर दी। इसके अलावा पाकिस्तान ने जम्मू के अरनिया सेक्टर में युद्धविराम का उल्लंघन किया है। इससे कुछ घंटे पहले ही उन्होंने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) से गोलीबारी रोकने की अपील की थी। बीएसएफ की जवाबी कार्रवाई में सीमा के दूसरी ओर एक जवान की मौत हो गई जिसके बाद पाकिस्तानी रेंजर्स ने यह कार्रवाई रोकने की अपील की थी। लेकिन रामगढ़ सेक्टर के नयनपुरा में रात करीब साढ़े दस बजे पाकिस्तान की तरफ से छोटे हथियारों और फिर मोर्टार से बीएसएफ की अग्रिम चौकियों को निशाना बनाते हुए गोलीबारी की गई।

बीएसएफ के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘(पाकिस्तानी) रेंजर्स ने जम्मू बीएसएफ फॉर्मेशन को आज फोन किया और गोलीबारी रोकने की अपील की।’ एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तानी सेना द्वारा अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बिना उकसावे के गोलीबारी और गोलाबारी की गई जिसके बाद उन्हें माकूल जवाब दिया गया। इस पर पाक रेंजर्स ने बीएसएफ से यह अपील की है।

अधिकारी ने बताया कि पिछले तीन दिनों में पाकिस्तानी ठिकानों पर बीएसएफ के जवानों की जवाबी गोलीबारी में भारी नुकसान हुआ है। पिछले कुछ दिनों में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर, बिना किसी उकसावे के हुई गोलीबारी में बीएसएफ के दो जवान शहीद हो गए थे। जम्मू क्षेत्र में सीमा पार से गोलीबारी की घटनाओं में कई आम नागरिकों की मौत हो गई और कई घायल हो गए हैं।

ऐसा माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शनिवार को संपन्न जम्मू कश्मीर दौरे के मद्देनजर इन घटनाओं में तेजी आई है। वैसे भी जम्मू कश्मीर में इस साल अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी और गोलाबारी की घटनाओं में वृद्धि हुई है। सीमा पार से गोलीबारी और गोलाबारी की हुई 700 से अधिक घटनाओं में 18 सुरक्षा कर्मियों सहित 38 लोग मारे गए तथा कई घायल हो गए।

उधर, शुक्रवार को ही घुसपैठ करने की कोशिश की नाकाम करते हुए सेना ने तीन आतंकियों को कुपवाड़ा के ब्रिंजाल इलाके के जंगलों में ढेर कर दिया है। बताया जा रहा है कि घुसपैठ की इस साजिश में तीन आतंकियों के मारे जाने के बाद अब इस इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *