हरिहर क्षेत्र का मेला

November 11, 2019

बिहार के सोनपुर का हरिहर क्षेत्र मेला एशिया का सबसे बड़ा पशु मेला माना जाता है। कार्तिक पूर्णिमा के दिन आरंभ होने वाले इस मेले में बिहार के कोने-कोने से आए लाखों लोग पवित्र गंडक और गंगा नदियों के संगम में स्नान कर स्थानीय हरिहर नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना करते हैं। इस मेले की पृष्ठभूमि में पौराणिक कथा है कि प्राचीन काल में यहां गज और ग्राह के बीच लंबी…

Read More >>

टीन के बाक्स के साथ सफर (3)

November 11, 2019

रात को दो/तीन बजे ट्रेन अम्बाला कैण्ट पहुँची। अब तक बाक्स की कोई खोज खबर नहीं ली गयी थी। यहां तो उतरना था। अब तो बाॅक्स की खैर खबर लेना जरुरी हो गया था। इलेक्ट्रीशियन भीड़ में घुसा। फर्श पर बैठे लोगों ने कह दिया कि बाॅक्स यहां नहीं है। लोड करते समय मैंने खुद ही देखा था। कुली उसे सीट के नीचे रख मुझे ताकीद भी कर गया था।…

Read More >>

लंबी प्रतीक्षा का अंत

November 9, 2019

खुश होइये कि चार सौ सत्तासी वर्षों की लम्बी प्रतीक्षा का अंत हुआ। यह हमारी या आपकी विजय नहीं, यह भारत की विजय है। राम तो यहाँ के कण-कण में हैं, आज भारत का स्वाभिमान लौटा है। यहाँ न कोई पक्ष हारा है न कोई पक्ष जीता है, आज भारतीय स्वाभिमान की गर्दन पर रखी गयी समरकन्द की तलवार टूटी है। गर्व कीजिये कि आपने आज का दिन देखा है।…

Read More >>

पर्यावरण का लोकपर्व : सामा चकेवा

November 9, 2019

​हमारे देश में शास्त्रीय पर्वों और उत्सवों के अतिरिक्त रंग-विरंगे लोक पर्वों की एक लंबी श्रृंखला है। लोक आस्था के कुछ सबसे खूबसूरत त्योहारों में छठ के अलावा बिहार के मिथिला क्षेत्र में हर साल मनाए जाने वाले सामा चकेवा की गिनती होती है। भाई-बहन के कोमल और प्रगाढ़ रिश्ते के बहाने प्रकृति और पर्यावरण के महत्व को बेहद मासूम अभिव्यक्ति देने वाला यह लोकपर्व समृद्ध मिथिला संस्कृति की पहचान…

Read More >>

टीन के बाक्स के साथ सफर (2)

November 9, 2019

श्रीनगर से हमने जम्मू की बस पकड़ी। होल्डाल और टीन का बक्सा बस की छत पर रखे गये। मुझे टीन के बक्स की हर पल चिंता रहती। बनिहाल के आगे चेकिंग चल रही थी। हमारे बस की भी चेकिंग हुई। एक सिपाही बस की छत पर चढ़ा। उसने वहीं से आवाज दी। लोहे का ट्रंक किसका है? मैंने जिंदगी में पहली बार ट्रंक शब्द सुना। मैं चुप रहा। जब नीचे…

Read More >>

वो अंदाज़ हमें दे दे, ठाकुर

November 8, 2019

हिन्दी सिनेमा के सौ साल से ज्यादा लम्बे इतिहास में जिन अभिनेताओं ने अभिनय की नई-नई परिभाषाएं गढ़ी, उनमें स्वर्गीय संजीव कुमार उर्फ़ हरिभाई जरीवाला एक प्रमुख नाम है। अपने भावप्रवण चेहरे, विलक्षण संवाद-शैली और अभिनय में विविधता के लिए विख्यात संजीव कुमार एक बेहतरीन अभिनेता ही नहीं, अभिनय के एक स्कूल माने जाते हैं। जब भी हिंदी फिल्मों में उत्कृष्ट अभिनय के कुछ मीलस्तंभ गिने जाएंगे, ‘कोशिश’ का गूंगा-बहरा…

Read More >>

त्योहारी गुलाब

November 8, 2019

नवम्बर का महीना उदासियों का महीना रहा है। मन नहीं लगता। गाँव उस घर की तरह लगता है, जिस घर से बेटी विदा हुई हो। आदमी उदास, पेड़ उदास, हवा-पानी उदास… पता नहीं कौन और क्यों घनानंद की कविता गा जाता है। हालाँकि गाँवों के लिए नवम्बर अब बेटियों से अधिक बेटों के विदा होने का महीना हो गया है। नवम्बर के महीने में गाँव की सड़कें शहर की ओर…

Read More >>

टीन के बाक्स के साथ सफर

November 8, 2019

आजकल मैं साहित्यकार प्रमोद कुमार की कहानी संग्रह “वो मेरी मोनिका” पढ़ रहा हूँ। इस वजह से मेरी फेसबुक पर सक्रियता पहले के मुकाबले काफी कम रह गयी है। इस कहानी संग्रह की एक कहानी “विदाई का बक्सा” पढ़ा, जिसमें दुल्हा दुल्हन को लेकर ट्रेन में सफर कर रहा है। विदाई का बक्सा उसी डिब्बे में थोड़ी दूरी पर रखा गया है। भीड़ कयामत की बढ़ती जा रही है। दुल्हा…

Read More >>

उठु भारत हो….

October 22, 2019

जाने कितने युगों पुरानी घटना है, जब एकाएक अयोध्या की सभी वाटिकाओं के समस्त वृक्षों पर बिना ऋतु आये ही पुष्प खिलने लगे थे। कोयल कूकने लगी थी, सूर्य ने अपना तेज मद्धिम कर लिया था, सारे पक्षी गाने लगे थे, खेतों में फसलें लहलहाने लगी थीं। एकाएक नगर के समस्त पुरुषों की भुजाएं फड़कने लगी थीं। सभी स्त्रियों की आंखों में प्रेम के डोरे उभर आए थे। वनों में…

Read More >>

जाऊंगा खाली हाथ मगर…

October 22, 2019

काकोरी के शहीद अशफाकुल्लाह खां भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के क्रांतिकारी सेनानी और ‘हसरत’ उपनाम से उर्दू के एक अज़ीम शायर थे। उत्तर प्रदेश के एक छोटे से शहर शाहजहांपुर में जन्मे अशफाक ने किशोरावस्था में अपने ही शहर के क्रांतिकारी शायर राम प्रसाद बिस्मिल के व्यक्तित्व और विचारों से प्रभावित होकर अपना जीवन वतन की आज़ादी के लिए समर्पित कर दिया था। वे क्रांतिकारियों के उस जत्थे के सदस्य बने…

Read More >>