तानाशाह मुसोलिनी का दुःखद अंत ।

मुसोलिनी के पिता इटली में लोहार का काम करते थे । गर्म लोहे को आकार देते देते उनके विचार भी उग्र हो गये थे । वे वर्तमान व्यवस्था को नफरत की नजर से देखते थे । उनके विचार समाजवादी थे । इन सबका बहुत व्यापक प्रभाव मुसोलिनी के बाल मन पर पड़ा । उसकी माँ एक शिक्षिका थीं । मुसोलिनी कुशाग्र बुद्धि का था । 23 साल की उम्र आते…

Read More >>

खाक हो जाएंगे हम तुमको खबर होने तक ।

मैना एक गिरोही पक्षी है , जिसे अपने वतन से प्यार है । वतन से प्यार होने के कारण यह कभी विदेश नहीं जाती । यह अपनी धुनी वहीं रमाती है , जहाँ यह पैदा होती है । यह इंसानों की आवाज की नकल करती है । वैसे तोता भी इंसानों की आवाज की नकल कर लेता है , पर अंतर इतना है कि तोता की आवाज अपनी होती है ,…

Read More >>

तुम मुझ पर नजर रखो (3)

मेरी खुशी पर पाला पड़ गया था । हम दोनों ने आने वाले बच्चे का नाम भी सोच रखा था । मैंने सोचा था कि गोल मटोल बच्चे को अम्मी की गोद में रख उन्हें मना लूंगा । वे अपने पोते को देख सारे रंज ओ गम भूल जाएंगी , क्योंकि मूल से सूद प्यारा होता है । लेकिन वह सूद मूल के लिए खतरा बन रहा था । मैंने…

Read More >>

तुम मुझ पर नजर रखो (2)

थाने पहुँच कर पता चला कि समझौते के पेपर तैयार हैं । मैं आश्चर्य चकित था । इस तरह से तो हम अवांछित तत्वों को और बढ़ावा देंगे । सुरेन्द्र कौर के साथ उसकी माँ भी आई थी । सुरेन्द्र कौर की माँ ने कहा कि मुझे अपनी बेटी की शादी करनी है । यदि केस वापस नहीं लिया तो इसकी शादी मुश्किल हो जाएगी । सुरेन्द्र कौर से भी…

Read More >>

लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव गिरा, पीएम को गले लगाने पर बोलीं लोकसभा स्पीकर- सदन में ये हरकत ठीक नहीं

लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अचानक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगा लिया। कांग्रेस अध्यक्ष के इस कदम ने सत्ता पक्ष के सदस्यों को हैरान कर दिया। राहुल का यह अप्रत्याशित कदम जल्द ही टेलीविजन चैनलों के लिए पसंदीदा वीडियो क्लिप बन गया है। गले लगाने के बाद अपनी सीट पर आकर बैठे राहुल गांधी हंसी मजाक में आंख मारते भी नजर…

Read More >>

फिर एक कहानी और श्रीमुख “रहस्य”

27 जनवरी सन 1556 ई. लगभग एक तिहाई भारत पर शासन कर रहा हुमायूँ अपने सबसे विश्वासपात्र सेवक बैरम खाँ की बलिष्ठ जंघा पर सर रखे अंतिम साँसे गिन रहा था। हुमायूँ और बैरम दोनों की आँखों में जल भर आया था। अपनी अनियंत्रित उल्टी साँसों से लड़ते हुए हुमायूँ ने बैरम खाँ की ओर एक निरीह दृष्टि डाल कर कहा- कुछ कहूँ तो मानोगे बैरम? बैरम खाँ ने रोते…

Read More >>

फेक मैसेज रोकने के लिए वॉट्सऐप का नया फीचर, सिर्फ 5 ग्रुप में ही मैसेज कर सकेंगे फॉरवर्ड

लोकप्रिय मैसेजिंग एप व्हाट्सएप फेक न्यूज और अफवाहों का सबसे बड़ा माध्यम बनता जा रहा है। फर्जी खबरों पर लगाम लगाने के लिए व्हाट्सएप अपने प्लैटफॉर्म पर एक नए फीचर की टेस्टिंग कर रहा है जिससे व्हाट्सएप पर साझा किए जाने वाले सभी मैसेज, विडियोज़ और फोटोज़ को फॉरवर्ड करने के लिए एक लिमिट सेट होगी। कंपनी ने शुक्रवार सुबह ई-मेल के जरिए से जानकारी दी कि भारत में किसी…

Read More >>

अविश्वास प्रस्ताव: राफेल, किसान, रोजगार पर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर बोला हमला, भाषण पूरा कर राहुल ने पीएम को दी झप्पी

लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के निशाने पर प्रधानमंत्री मोदी रहे। उन्होंने जीएसटी, नोटबंदी से लेकर राफेल डील के मुद्दे को उठाया। राहुल ने कहा कि पीएम चौकीदारी नहीं बल्कि भागीदार हैं। इतना ही नहीं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह और राफेल डील को लेकर रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण के नाम का उठाने से सदन में हंगामा भी हुआ। याद हो तो राहुल…

Read More >>

तुम मुझ पर नजर रखो ।

सुरेन्द्र कौर से मेरा परिचय जालंधर से दिल्ली यात्रा के दौरान बस में हुई थी । वह मेरे आगे थी । मैं उसके पीछे । हम दोनों टिकट खरीदने क्यू में लगे थे । उससे क्लर्क ने कुछ छुट्टे पैसे मांगे। सुरेन्द्र कौर के पास नहीं थे। उसकी बेचारगी मुझसे देखी नहीं गयी । मेरे पास वांछित पैसे थे । मैंने वो पैसे उसे दे दिए । मैंने भी टिकट…

Read More >>

नीरज और ‘ऐ भाई ज़रा देख के चलो’ !

नीरज जी को उनके छंदबद्ध गीतों और गीतिकाओं के सौन्दर्य के लिए जाना जाता है, लेकिन एक विचित्र तथ्य यह भी है कि हिंदी सिनेमा में छंदमुक्त गीतों के जन्मदाता भी वही थे। फिल्म थी ‘मेरा नाम जोकर’। राज कपूर को सर्कस के विदूषक की अपनी भूमिका में गाने के लिए लीक से हटकर कुछ चाहिए था। गीत की रचना के लिए उनके यहां एक बैठक हुई जिसमें नीरज जी…

Read More >>
error: Content is protected !!