इंडिया गेट पर शहीदों के नाम को लेकर भ्रांतियां…… क्या है सच्चाई ?

January 9, 2019

इंडिया गेट (वास्तविक रूप से इसे अखिल भारतीय युद्ध स्मारक भी कहा जाता है) एक युद्ध स्मारक है। जो राजपथ, नयी दिल्ली में बना हुआ है, राजपथ को प्राचीन समय में किंग्सवे भी कहा जाता था।दिल्ली शहर के मध्य में स्थित इंडिया गेट 42 मीटर ऊँचा है और भारत के प्रसिद्ध सैनिको का नाम इंडिया गेट की दीवारो पर उकेरा गया है। उस दीवार पर उन सैनिको के नाम लगे…

Read More >>

घूम रहे विषधर बस्ती में , देखो कहीं सपेरा है क्या ?

October 25, 2018

श्याम सखा के इस शेर में सपेरे की ढूंढ तो आस्तीन के साँप को पकड़ने के लिए की जा रही है । आज तक आस्तीन के साँप को कोई सपेरा नहीं पकड़ सका है ।आस्तीन के साँप का काटा आदमी तो पानी भी नहीं माँगता । इसलिए हम न तो इस साँप की बात करेंगे और इनको न पकड़ पाने वाले सपेरों की बात करेंगें । आज हम उन सपेरों…

Read More >>

परदेसियों से ना अंखिया मिलाना ।

October 11, 2018

जाड़ भोटिया उत्तरकाशी के नीलांग और जादूंग सीमांचल में बसे हुए थे । जब 1962 में चीन से लड़ाई लगी तो ये भागकर बोगारी और डुण्डा गांवों में बस गये । हांलाकि इनकी प्रकृति व शारीरिक बनावट तिब्बतियों से मिलती जुलती है , पर ये अपने को भारतीय राजपूत मानते हैं । बोगारी भी काफी ऊंचाई पर स्थित है । ऐसे में ठण्ड अधिक पड़ने पर बोगारी के लोग भी…

Read More >>

चौकीदारी करना इतना आसान नहीं है ।

October 3, 2018

कभी नवाजुद्दीन शिद्दकी दिल्ली में चौकीदारी करते थे । आज वे एक प्रतिभावान अभिनेता हैं । उनकी गिनती आज वाॅलीवुड के नामचीन अभिनेताओं में होती है । नवाजुद्दीन शिद्दकी एक बहुमुखी प्रतिभा के धनी कलाकार हैं । कभी हमारे प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी चाय बेचा करते थे । सफलता की सीढ़िया चढ़ते हुए आज मोदी जी इस पद तक पहुंचे हैं । प्रधान मंत्री बनने के बाद उन्होंने कहा –…

Read More >>

सदाचारी हीं ब्राह्मण कहलाता है ।

September 28, 2018

कृष्ण का पुत्र साम्ब कुष्ट रोग से पीड़ित थे । कृष्ण ने शाक्यद्वीप से ब्राह्मणों को बुलावाया । ये ब्राह्मण कुष्ट रोग के इलाज में माहिर थे । उन्होंने एक विशेष प्रकार का मलहम तैयार किया और साम्ब के घावों पर उसका लेपन किया । शाक्यद्वीपीय ब्राह्मण सूर्य के उपासक थे । कहते हैं कि ये ब्राह्मण देहज नहीं थे । इन्हें सीधे तौर पर सूर्य ने अपने पराक्रम से…

Read More >>

खैबर दर्रा – यादों के झरोखों से .

September 28, 2018

खैबर दर्रा को भारत का प्रवेश द्वार कहा जाता था । इसी प्रवेश द्वार से अफ़्रीकी मानव भारत में प्रवेश कर सभ्यता के कई सोपानों को चढ़ता हुआ आज इस स्तर पर पहुँचा है । इसी मार्ग द्वारा पहुँच कर पँजाब में ऋग्वेद की रचना हुई थी । इसी दर्रे से पहुँच कर सिकन्दर , मुहम्मद गोरी , तैमूर ,बाबर , नादिर शाह , अहमद शाह अब्दाली आदि आक्रांताओं ने…

Read More >>

फाहित्य…

July 28, 2018

राहुल जी ने सदन में आँख मार कर भारतीय लोकतंत्र को एक नई दिशा दी है। वैसे यह भी एक सच्चाई है कि भारत की संसद में मारने के लिए केवल यही एक “आँख’ ही बची थी, सदन ने देश का शेष सब कुछ तो बहुत पहले ही मार दिया था। कुछ दिन पूर्व एक नवोदित अभिनेत्री ने आँख मार कर देश का दिल लूटा था, आज राहुल जी ने आँख…

Read More >>

फिर एक कहानी और श्रीमुख “रहस्य”

July 20, 2018

27 जनवरी सन 1556 ई. लगभग एक तिहाई भारत पर शासन कर रहा हुमायूँ अपने सबसे विश्वासपात्र सेवक बैरम खाँ की बलिष्ठ जंघा पर सर रखे अंतिम साँसे गिन रहा था। हुमायूँ और बैरम दोनों की आँखों में जल भर आया था। अपनी अनियंत्रित उल्टी साँसों से लड़ते हुए हुमायूँ ने बैरम खाँ की ओर एक निरीह दृष्टि डाल कर कहा- कुछ कहूँ तो मानोगे बैरम? बैरम खाँ ने रोते…

Read More >>

फेक मैसेज रोकने के लिए वॉट्सऐप का नया फीचर, सिर्फ 5 ग्रुप में ही मैसेज कर सकेंगे फॉरवर्ड

July 20, 2018

लोकप्रिय मैसेजिंग एप व्हाट्सएप फेक न्यूज और अफवाहों का सबसे बड़ा माध्यम बनता जा रहा है। फर्जी खबरों पर लगाम लगाने के लिए व्हाट्सएप अपने प्लैटफॉर्म पर एक नए फीचर की टेस्टिंग कर रहा है जिससे व्हाट्सएप पर साझा किए जाने वाले सभी मैसेज, विडियोज़ और फोटोज़ को फॉरवर्ड करने के लिए एक लिमिट सेट होगी। कंपनी ने शुक्रवार सुबह ई-मेल के जरिए से जानकारी दी कि भारत में किसी…

Read More >>

ख़ुदा ख़ैर करे !

May 19, 2018

क्या जम्मू और कश्मीर में आतंक का रास्ता अख्तियार कर अपने ही निर्दोष देशवासियों और सैनिकों का क़त्लेआम मचाने वाले आतंकी सचमुच मुसलमान हैं ? वे किसी भी अर्थ में मुसलमान नहीं हो सकते। फिर माहे रमज़ान का बहाना लेकर उन्हें एक महीने तक सैन्य कार्रवाई से छूट देने का क्या अर्थ है ? अगर आप उन्हें मुसलमान मानते हैं तो आप बहुत भोले हैं और पिछले अनुभवों से आपने…

Read More >>